Business Ideas in Hindi |How to Start Led Bulb Manufacturing Business in 2022


आज हम इस लेख के जरिए LED Bulb kaise banaye और इसका बिजनेस कैसे करें? इस Business Ideas in Hindi के बारे मे जानेगे की How to Start Led Bulb Manufacturing Business in 2022 ,कैसे शुरू करे अपना LED Bulb Manufacturing Business ओर इसके साथ ही एलईडी बलब से जुड़ी सभी जानकारी के बारे मे जानेगे ।

किसी भी business को स्टार्ट करने से पहले हमे उस व्यापार की डिमांड और मार्केट को देखना बहुत जरूरी है।आज Led Bulb हर घर का हिस्सा बन चुका है। क्योंकि गांव हो या शहर आज led blub की हर जगह इसकी डिमांड बढती जा रही है। Led Bulb ने बहुत तेजी से पुराने सीएफएल (CFL) बल्ब की जगह ले ली है। एक एलईडी बल्ब आमतोर पर 50 हजार घंटे या उससे ज्यादा चल सकता है,

लेकिन एक सीएफएल बल्ब की केवल 8 हजार घंटे तक ही चल सकता है। इसके साथ ही इससे बिजली का बिल भी काफी कम आता है। ये बल्ब बहुत ही टिकाऊ होते है और ये blub प्लास्टिक का होने की कारण से इसके टूटने का डर भी कम रहता। इसलिए एलईडी बल्ब का यह बिजनेस बहुत ही अच्छा बिजनेस आईडिया है। ओर अब तो सरकार भी इस बिजनेस को बढ़ावा दे रही है।

Table of Contents

एलईडी लाइट के व्यापार की प्रक्रिया

इस एलईडी बल्ब बिजनेस आईडिया की वजह से बहुत से लोगों को रोजगार भी मिल रहा है। इसके लिए सरकार की तरफ से ट्रेनिंग भी दी जाती है। आप बहुत ही कम निवेश के साथ एलईडी बल्ब का बिजनेस शुरू कर सकते हैं। कम निवेश में शुरू करने के लिए इसे सबसे अच्छा बिजनेस माना जाता है। दरअसल, मिनिस्ट्री ऑफ माइक्रो, स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज के तहत कई संस्थान एलईडी बल्ब बनाने की ट्रेनिंग देते हैं।

Led Bulb का व्यापार कई तरह से किया जा सकता है. इसकी ट्रेनिंग से भी अच्छा ख़ासा लाभ कमाया जा सकता है. इसके लिए आपको सबसे पहले किसी इलेक्ट्रोनिक अथवा जनरल मार्केट में एक दूकान किराए पर लेनी पड़ेगी . यदि आपके पास कोई ऐसी जगह है, जो दूकान बन सकती है, तो किराए का पैसा बचाने के लिए उस जगह पर ही दूकान कर लें. इस स्थान की आवश्यक फर्निशिंग के बाद आप यहाँ पर एलईडी बेचने का काम शुरू कर सकते हैं. यहाँ पर एलईडी बेचने के लिए आप किसी होलसेलर या सप्लायर से एलईडी प्राप्त कर सकते हैं.

LED Bulb kaise banaye और इसका बिजनेस कैसे करें?

LED Bulb kaise banaye और इसका बिजनेस कैसे करें?

एलईडी लाइट का व्यापार कैसे शुरू करें How to Start LED Lights Making (Banane ka) Business Plan in hindi

एलईडी का पूरा नाम लाइट एमिटिंग डायोड है. इससे बने इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों से बिजली की खूब बचत होती है. इस कारण भारत सरकार देश में एलईडी बनाने को बढ़ावा दे रही है. पिछले वर्ष सरकार ने देश भर में डोमेस्टिक एफिसिएंट लाइटिंग प्रोग्राम (DEPL) की शुरुआत की थी. इस समय इसी योजना का नाम भारत सरकार द्वारा बदल कर उजाला कर दिया गया है.

अब तक देश के कई हिस्सों में इस योजना का पालन हुआ और यह योजना काफ़ी सफल रही. उजाला के सफ़ल होने से देश में एलईडी के व्यापार की संभावनाएं बढती जा रही हैं. एलईडी व्यापार को आसानी से बेहद कम पैसे में शुरू किया जा सकता है. यहाँ पर इस व्यापार से सम्बंधित विशेष कड़ियों का वर्णन किया जा रहा है.

LED Bulb से बिजली खपत हो जाएगी कम

एलईडी लाइट का व्यापार शुरू करने के लिए भारत सरकार द्वारा प्रशिक्षण
भारत सरकार देश में एलईडी का प्रसार करने के लिए विभिन्न तरह की एलईडी सम्बंधित ट्रेनिंग भी दे रही है. यह प्रशिक्षण कौशल विकास योजना तथा एमएसएमई मंत्रालय की तरफ़ से दिया जा रहा है. कौशल विकास योजना के अंतर्गत निसबड और खादी ग्रामोद्योग आयोग की तरह से समय समय पर विभिन्न स्थानों में ट्रेनिंग प्रोग्राम चलाये जाते हैं. इस प्रशिक्षण के अंतर्गत प्रशिक्षण लेने वाले को एलईडी सम्बंधित सारी जानकारियाँ दी जाती हैं. विशेष जानकारी के लिए नीचे दिए गये लिंक पर विजिट कर सकते हैं.


Business Idea: कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के बाद देश में बेरोजगारी दर में तेजी से इजाफा हुआ है. ऐसे में अगर आपकी नौकरी भी इस कारण छूट गई है तो नई नौकरी की तलाश करने के बजाए आप अपना बिजनेस शुरू (New Business Plan) कर सकते हैं. लेकिन, बिजनेस शुरू (Startup) करने से पहले इस बात की जांच करना बहुत जरूरी है कि आप जिस चीज का बिजनेस शुरू करने जा रहे हैं

उसकी मार्केट में कैसी डिमांड (Market Plan) है. बिना डिमांड के शुरू किए गए बिजनेस में आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है. अगर आपके पास निवेश के लिए कम पैसे हैं और आप ज्यादा मुनाफा कमाना चाहते हैं तो एलईडी (LED) बल्ब का बिजनेस शुरू कर सकते हैं.

सरकार देती है Led Bulb बनाने की ट्रेनिंग
इस बिजनेस की सबसे खास बात ये है कि आप बहुत छोटे से निवेश में ही इस बिजनेस को शुरू कर सकते हैं. इसके साथ ही इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपको सरकार द्वारा भी मदद मिलती है. एलईडी बल्ब बनाने की ट्रेनिंग आपको मिनिस्ट्री ऑफ माइक्रो, स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज (Ministry of Micro, Small and Medium Enterprises) से मिलती है.

इसके अलावा आप एलईडी बल्ब बनाने वाली कंपनियों से भी बल्ब बनाने की ट्रेनिंग ले सकते हैं. इस ट्रेनिंग के दौरान आपको बल्ब बनाने के अलावा बेसिक ऑफ पीसीबी, एलईडी ड्राइव, बल्ब मैटेरियल की खरीदी, फिटिंग-टेस्टिंग, मार्केटिंग, सरकारी सब्सिडी स्कीम (Government Subsidy Scheme) आदि जैसी बहुत सी चीजों की ट्रेनिंग दी जाती है.

Led Bulb Manufacturing में कितनी लागत आयेगी

कम लागत पर एलईडी लाइट के व्यापार का आरम्भ (LED Lights Business Start at Minimum Cost)- इस तरह के व्यापार को शुरू करने के लिए कम से कम 1.5 से 2 लाख रुपए की आवश्यकता पड़ती है. हालाँकि दूकान अच्छे से चलने पर इससे प्रति महीने 20,000 से 3,00,000 का मुनाफा प्राप्त हो सकता है, अतः 2 लाख के निवेश से प्रति महीने कम से कम 20,000 कमाने का ये एक उत्तम व्यापार है.

एलईडी लाइट का बिजनेस कैसे शुरू करें? |LED Bulb Making Business in Hindi

कॉम्पोनेन्ट बना कर Led Bulb का व्यापार करें (LED Light Business by Making a Component)- एलईडी की मांग बढ़ने से कई बड़ी कम्पनियों ने एलईडी बनानी शुरू कर दी है. अतः कम लागत के व्यापारी लैंप कॉम्पोनेन्ट बनाने का व्यापार कर सकते है. एक छोटे से वर्कशॉप तैयार करने के लिए कम से कम 5 लाख की लागत आती है.

इसके लिए सबसे पहले एमएसएमई द्वारा भारत सरकार के अधीन अपने वर्कशॉप का पंजीकरण कराना होता है. इस पंजीकरण के बाद सरकार द्वारा ऋण भी प्राप्त किया जा सकता है. एक अनुमान के तहत इसके अंतर्गत प्रति महीने रू 50,000 से 70,000 तक कमाया जा सकता है.

Led Bulb Manufacturing Business की असेंबलिंग यूनिट को कैसे स्थापित करें?

असेम्बलिंग यूनिट स्थापित करके एलईडी लाइट का व्यापार करें (LED Light Business by Installing Assembling Units)- आप एक असेम्बलिंग यूनिट की स्थापना करके भी एलईडी से पैसा कमा सकते हैं. एक छोटे से असेम्बलिंग यूनिट की स्थापना करने के लिए 5 से 7 लाख रूपए की लागत आती है. हालाँकि इसके लिए सरकार ऋण देती है और प्रधानमन्त्री रोज़गार योजना के अंतर्गत यह ऋण प्राप्त किया जा सकता है.

स्थान की व्यवस्था हो जाने के बाद आपको लाइट असेम्बल करने वाले व्यापारी तथा विभिन्न मैन्युफैकचर्स कंपनियों से संपर्क करना होगा. चूँकि यहाँ से रिटेलर एलईडी उठाएंगे, अतः एक सप्लायर के रूप में आपको विभिन्न तरह के एलईडी लाइट अपने स्टोर में रखना होगा, ताकि रिटेल की मांग के अनुसार एलईडी दे सकें. एक सप्लायर के रूप में काम करने के लिए आपको एक सुरक्षित ट्रांसपोर्ट व्यवस्था की आवश्यकता होती है. इसके लिए मूवर्स और पैकर्स व्यापार की शुरुआत कैसे करें यहाँ पढ़ें.

एलईडी बल्ब के बिजनेस के लिए लागत और निवेश

बिजनेस शुरू करने के लिए करना पड़ेगा इतना निवेश- अगर आप इस बिजनेस को छोटे स्तर से शुरू करना चाहते हैं तो केवल 50,000 रुपये के निवेश से उसे शुरू कर सकते हैं. इस काम के लिए आपको कोई दुकान भी नहीं खोलनी पड़ेगी. एक बल्ब को बनाने में 50 रुपये की लागत आएगी जिसे आप मार्केट में 100 रुपये प्रति बल्ब तक बेच सकते हैं. इस तरह आप दोगुना मुनाफा तक (Business Profit) कमा सकते हैं. अगर आप हर महीने 2000 बल्ब बनाकर कम से कम 1 लाख तक का मुनाफा कमा सकते हैं.

LED Bulbs सप्लायर बनकर बिजनेस करें

एलईडी सप्लायर के रूप में करें व्यापार (LED Light Business as a Supplier)- यदि आप एलईडी की दूकान नहीं करना चाहते तो, आपके पास एलईडी सप्लायर बनने का भी विकल्प है. विभिन्न दुकानों के लिए सप्लायर का काम करते हुए भी आप एलईडी की सहायता से अच्छा लाभ उठा सकते हैं. हालाँकि सप्लायर बनने के लिए आपको रिटेल से अधिक पैसा निवेश करना पड़ेगा. सप्लायर बनने के लिए कम से कम 2 से 3 लाख रूपए की लागत आती है. हालाँकि इसके लिए भी आपको गोडाउन अथवा किसी बड़े स्टोर के लिए जगह किराए पर लेने की आवश्यकता पड़ेगी.

एलईडी बल्ब बनाने की मशीन की कीमत और अन्य उपकरण

यहाँ पर एक असेम्बलिंग यूनिट स्थापित करने के लिए मशीनरी, रॉ मटेरियल आदि का वर्णन किया जा रहा है.

मशीनरी : एलईडी असेम्बलिंग यूनिट के लिए आवश्यक मशीनरी उसकी कीमत और उसे ऑनलाइन खरीदने के बारे में नीचे बताया जा रहा है.
कॉम्पोनेन्ट फोर्मिंग : क़ीमत : रू 85,000
सोल्डरिंग मशीन : क़ीमत : रू 300
डिजिटल मल्टीमीटर : क़ीमत : रू 551
टेस्टर : क़ीमत : रू 565
सीलिंग मशीन : क़ीमत : रू 1350
एलसीआर मीटर : क़ीमत : रू 2400
स्माल ड्रिलिंग मशीन : क़ीमत : रू 1800
लक्स मीटर : क़ीमत : रू 1200

एलईडी बल्ब के व्यापार के लिए रॉमैटेरियल और लागत

रॉमटेरियल : इस बिजनेस के लिए आवश्यक रॉमटेरियल उसकी कीमत और उसे ऑनलाइन खरीदने के बारे में नीचे बताया जा रहा है.
लेड चिप्स : क़ीमत : रू 1200
रेक्टिफिएर मशीन : क़ीमत : रू 9/ प्रति इकाई
हीट सिंक डिवाइस : क़ीमत : रू 400
मेटलिक कैप होल्डर
प्लास्टिक बॉडी : क़ीमत : रू 50 प्रति इकाई
रिफ्लेक्टर प्लास्टिक ग्लास : क़ीमत : रू 3 प्रति इकाई
कनेक्टिंग वायर : क़ीमत : रू 480
सोल्डरिंग फ्लक्स : क़ीमत : 80 रू

एलईडी बल्ब के बिजनेस की मार्केटिंग

एलईडी बल्ब के बिजनेस की मार्केटिंग आप कई तरीकों से कर सकते है जिनमे आप दुकानों पर जाकर दुकानदारों से संपर्क बना सकते है इसके साथ ही अपने बलब की ऐड भी करवा सकते है ओर अपने ब्रांड के पोस्टर व बेनर लगवा कर मार्केटिंग कर सकते है

एलईडी बल्ब के बिजनेस के लिए लाइसेंस व रजिस्ट्रेशन

led balb का बिजनेस शुरू करने के लाइसेंस व रजिस्ट्रेशन की जरूरत पड़ती है ओर इसके साथ ही जी एस टी नंबर लेना पड़ता है उसके बाद ट्रेडमार्क का रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ता है क्योंकि जब आपका बिजनस अच्छा चलने लगे तो उसकी नकल करके कोई दूसरा व्यक्ति उस नाम का इस्तेमाल न कर सके इसलिए रजिस्ट्रेशन करवाना बहुत ही आवश्यक है

एलईडी बल्ब के बिजनेस में रिस्क

LED बल्ब का मार्केट भारत में बहुत बड़ा है. आजकल हर घर में आपको एलईडी बल्ब मिल जाएगा. सीएफएल बल्ब (CFL Bulb) जहां केवल 8 हजार घंटे चलता है वहीं एलईडी बल्ब की लाइफ 50 हजार घंटे की होती है. एलईडी बल्ब के इस्तेमाल (LED Bulb Use) से बिजली के बिल में काफी कमी आती है और यह बिजली जैसे जरूरी संसाधनों की बचत करने में भी मदद करता है.

यह बल्ब प्लास्टिक का होने के कारण यह जल्दी टूटता भी नहीं है. ऐसे में मार्केट में इस बल्ब की बहुत ज्यादा डिमांड (LED Bulb Demand) है. इसलिए आजकल इसका बिजनेस बहुत फायदेमंद हो गया है. इस बिजनेस को खड़ा करने के लिए सरकार की तरफ से ट्रेनिंग (Training for Making LED Bulb) भी दी जा रही हैं. तो चलिए जानते हैं इस बिजनेस के बारे में-

LED Bulb बिजेनस के लिए ज्यादा जानकारी और सहायता केसे प्राप्त कर सकते हैं

वहीं स्वरोजगार कार्यक्रम के तहत हर जगह एलईडी बल्ब बनाने की ट्रेनिंग भी दी जाती है। साथ ही जो कंपनियां एलईडी बल्ब बनाती हैं वहां से भी ट्रेनिंग ली जा सकती है। एलईडी बल्ब बनाने की ट्रेनिंग के दौरान आपको बेसिक ऑफ एलईडी, बेसिक ऑफ पीसीबी, एलईडी ड्राइव, फिटिंग-टेस्टिंग, मैटेरियल की खरीद, मार्केटिंग, सरकारी सब्सिडी स्कीम के अलावा बहुत सारी चीज़ों के बारे में बताया जाएगा।

LED Bulb बनाने वाली मशीन कितने रुपए की आती है?

अगर आप छोटे स्तर पर यह बिजनेस शुरू करना चाहते तो आप केवल 50,000 रुपये में भी शुरू कर सकते हैं। इस काम को शुरू करने के लिए जरूरी नहीं है की आपको कोई दुकान खोलनी पड़े। इसे बिजनेस को आप घर पर ही शुरू कर सकते हैं। एक बल्ब को बनाने में करीब 50 रुपये तक की लागत आती है और बाजार में यह 100 रुपये में बिकता है। इसका मतलब यह है कि एक बल्ब पर आपको दोगुना मुनाफा हो सकता है। अगर आप एक दिन में 100 बल्ब बनाते हैं, तो इससे आपकी 5000 रुपये तक की सीधी कमाई होगी। ऐसे में आप हर महीने 1.50 लाख रुपये तक आसानी से कमा सकते हैं

यह भी पढे :- कम निवेश में घर से शुरू किये जाने वाले कुछ व्यवसाय, जिससे हो सकती हैं अच्छी कमाई

led बल्ब बनाने का सामान कहां मिलता है?

एलईडी बलब बनाने का समान आप कही से भी ले सकते है मतलब जहा इलेक्ट्रोनिक दुकान अथवा इलेक्ट्रोनिक मार्केट मे जाकर कही भी खरीद सकते है LED Bulb बनाने के लिए आप ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरह से सामान खरीद सकते है ऑनलाइन समान आप अमेजॉन पर से आसानी से खरीद सकते है

निष्कर्ष

आज हमने इस लेख के जरिए LED Bulb kaise banaye और इसका बिजनेस कैसे शुरू करें? इसके बारे जाना ओर समझा इसके साथ ही इस business idea पर केसे काम करना है इसके लिए किस -किस चीज की आवश्यकता पड़ेगी इसके बारे हमने विस्तार से बताया है अगर आपको यह जानकारी पसंद आयी हो तो हमे कमेन्ट करके जरूर बताये ओर इस LED Lights business से जुड़ा आपका कोई भी सवाल हो आप हमे कॉमेंट मे पूछ सकते है इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना न भूले धन्यवाद ।

यह भी पढे :- Best 20 Low investment clothing business ideas in Hindi 2022


Leave a Comment