Union budget 2022: बजट 2022 in Hindi


आज हम बजट से जुड़ी सभी बातों के बारे में जानेंगे जैसे बजट क्या है, बजट के प्रकार, बजट 2022 कब आएगा, बजट 2022 दिनांक budget 2022, बजट कब पेश होगा, budget 2022 India, budget 2022 timing, budget day 2022 date आदि के बारे में जानेंगे

बजट क्या है

budget :बजट भविष्य के लिए की गई वह योजना होती है जो पूरे साल की आय व खर्चा का अनुमान लगाकर तैयार किया जाता है जिसमें देश के वित्त मंत्री द्वारा सरकार के समक्ष अपनी आय व खर्चा और अन्य योजनाओं को बनाकर जनता के सामने प्रस्तुत करती है एक सही बजट वही होता है जिसमें किसी का स्वार्थ ना हो उस बजट से आम जनता को, लोगों को, और सरकार , व्यापारियों ,बहुराष्ट्रीय संगठन या एक व्यक्ति ,परिवार ,समूह के लिए अच्छी योजनाएं बनाई गई हो वही बजट कहलाता है

बजट के प्रकार

बजट के सामान्यतः दो ही प्रकार होते हैं बजट वित्त मंत्रालय के द्वारा बांटे गए विभागों के द्वारा तैयार किया जाता है वह बजट केंद्र और राज्य सरकार दोनों के लिए तैयार होता है लेकिन रेल बजट रेल मंत्रालय द्वारा अलग से तैयार किया जाता है

1. केंद्रीय बजट

2. रेल बजट

बजट 2022 23 (budget 2022 23)

budget 2022 : वित मंत्री निर्मला सितारमण ने 1 फरवरी 2022 को बजट पेश किया लोकसभा मे वित मंत्री निर्मला सितारमण ने मोदी सरकार का 10 वा ओर खुद का चोंथा बजट पेश किया है वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि बजट 2021-22 में सार्वजनिक निवेश और पूंजीगत व्यय (Capital Expenditure) में तेज बढ़ोतरी हुई…इस बजट (2022-23) से लाभ होगा, युवाओं, महिलाओं, किसानों, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति; पीएम गति शक्ति मास्टर प्लान द्वारा निर्देशित किया जाएगा

बजट 2022 डेट budget 2022 time and date

India budget 2022-23 date: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1 फरवरी मंगलवार को दिन में 11:00 बजे बजट पेश किया

इकोनामिक सर्वे 2022 in Hindi

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इकोनामिक सर्वे 2022 पेश किया है जिसमें हमारी इकोनॉमी के लिए कुछ पॉजिटिव बातें शामिल की गई हैं जो कि हमारी अर्थव्यवस्था के लिए अच्छी इससे आने वाले दिनों में रोजगार के नए अवसर और अच्छी वृद्धि देखने को मिल सकती है इसके साथ ही इससे इन्वेस्टमेंट भी बढ़ेगा यह है पास स्टॉक मार्केट के लिए बहुत ही अच्छी साबित होगी इकनोमिक सर्वे की ठीक बात है मार्केट में तेजी देखने को मिली आइए जानते हैं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इकोनामिक सर्वे किन बातों की चर्चा किया

  • इस वित्त वर्ष के दौरान भारतीय इकोनॉमी की जीडीपी ग्रोथ 9.2 फ़ीसदी भी रहेगी
  • अगले वित्त वर्ष 2022 23 इंडियन इकोनॉमी की ग्रोथ 8 से 8.5 फ़ीसदी तक रहने का अनुमान लगाया जा रहा है
  • इस वित्त वर्ष में एग्रीकल्चर सेक्टर की ग्रोथ 3.9 फ़ीसदी रहेगी
  • चालू वित्त वर्ष 2021-22 के दौरान एक्सपोर्ट सेक्टर में 16.5 फ़ीसदी तक की बढ़ोतरी हो सकती है
  • इस साल वित्तीय बजट के दौरान सर्वश्रेष्ठ सर्विसेज सेक्टर की ग्रोथ 8.2 फ़ीसदी रह सकती है
  • इस वित्त वर्ष के दौरान इंडस्ट्रियल सेक्टर की ग्रोथ 11.8 फ़ीसदी रह सकती है
  • इस वित्त वर्ष इंपोर्ट सेक्टर में 29.4 फ़ीसदी बढ़ने का अनुमान है
  • इस वित्त वर्ष में अप्रैल नंबर नवंबर के दौरान रेलवे मैं कैपिटल एक्स ट्पेडीचर 65 157 करोड़ रुपए रहा है
  • वैश्विक बाजारों में क्रूड ऑयल की कीमतों में 70 से 75 डॉलर प्रति बैरल रहने का अनुमान है
  • इस वित्त वर्ष में कंजक्शन 7% बड़ा है इससे सरकार का बड़ा योगदान है

इस बजट के आने से हमारी अर्थव्यवस्था कुछ सुधर सकती हैं क्योंकि करोना के दौरान हमारी अर्थव्यवस्था की ग्रोथ कम हो चुकी थीकोरोना हालात और भी खराब कर दिए थे लेकिन अब लगता है इस बजट से हमारी अर्थव्यवस्था ने ग्रोथ होगी

बजट 2022 उम्मीदें(budget 2022-23 expectations)

budget 2022 से लोगों को बहुत उम्मीदें हैं मंत्री वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण मंगलवार को 11:00 बजे बजट पेश करने जा रही हैं जिसमें उम्मीद है कि वे अर्थव्यवस्था की ग्रोथ बढ़ाने वाले उपायों के बारे में एलान करेंगे और इसके साथ ही यह बजट 2022 आम जनता के हित में हो ऐसी उम्मीद की जा रही है


आम बजट(union budget) 2022-23

अब 9.2 प्रतिशत की दर से बढ़ेगी जीडीपी

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि इस वर्ष में भारत की आर्थिक विकास दर 9.2% रहने का अनुमान है,केंद्रीय बजट 2022 पढ़ते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि भारत की विकास दर 9.27% ​​रहने का अनुमान यह दर बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में सबसे ज़्यादा है। इसके साथ ही आईएमएफ और वर्ल्ड बैंक जैसी अंतरराष्ट्री एजेंसियां ने भी भारत की जीडीपी वृद्धि दर दुनिया में सबसे तेज रहने का अनुमान बताया है।

वित मंत्री ने 400 वंदे भारत ट्रेनों को चलाने का ऐलान

आज बजट मे वित्त मंत्री ने भारत मे 400 नई वंदे भारत ट्रेनों को चलाने का ऐलान किया। मोदी सरकार का रेलवे के आधुनिकीकरण पर हमेशा से ही जोर रहा है। इसी क्रम में वित्त मंत्री ने बजट भाषण में नया ऐलान किया है।

वित मंत्री ने किसानों के लिए किया ऐलान

संसद भवन मवित्त मंत्री ने किसानों की मदद के लिए भी बड़े ऐलान किए। उन्होंने कहा कि एमएसपी पर रिकॉर्ड खरीदारी की जाएगी। ऑर्गेनिक खेती को बढ़ावा दिया जाएगा।

एक साल में 25000 किमी हाइवे का निर्माण

अगले 100 साल के लिए ढांचागत विकास की रूपरेखा पर काम किया जा रहा है। एक साल में 25 हजार किमी हाइवे बनेगा। हाइवे विस्तार पर 20 हजार करोड़ रुपये का खर्च किया जाएगा। वित्त वर्ष 2022-23 में 8 नए रोपवे का ऑर्डर दिया जाएगा। रोपवे ऑर्डर पीपीपी मॉडल पर दिया जाएगा।

गति शक्ति योजना को बढ़ावा

वित्त मंत्री ने कहा कि नई पीढ़ी की 400 वंदे भारत ट्रेनें अगले तीन वर्षों में चलाई जाएगी। 100 पीएम गति शक्ति कार्गो टर्मिनल्स भी अगले तीन वर्षों में तैयार होंगे। इससे मेट्रो सिस्टम तैयार करने की नवोन्मेषी तरीका विकसित होगा। पीएम गति शक्ति, समावेशी विकास, उत्पादकता वृद्धि और निवेश, सनराइज अपॉर्च्युनिटी, एनर्जी ट्रांजिशन और क्लाइमेट एक्शन एवं निवेश की फाइनैंसिंग हमारी सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल होगी

एनिमेशन, विजुअल इफेक्ट्स, गेमिंग और कॉमिक्स (AVGC) सेक्टर में युवाओं को रोजगार देने की अपार संभावनाएं हैं। सभी स्टेक होल्डर्स के साथ एक AVGC प्रमोशन टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा, ये हमारे बाजार और वैश्विक मांग के लिए घरेलू क्षमता का निर्माण करेगी: वित्त मंत्री

2022 में 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी

निजी क्षेत्र द्वारा 5G मोबाइल सेवाओं को शुरू करने के लिए 2022 में स्पेक्ट्रम की नीलामी की जाएगी। PLI स्कीम के तहत 5G इकोसिस्टम लॉन्च करने के लिए डिजाइन आधारित मैन्युफैक्चरिंग योजना शुरू की जाएगी ताकि ग्रामीण और दूर-दराज के क्षेत्रों में सस्ती दरों पर ब्रॉडबैंड और मोबाइल कम्युनिकेशन सुनिश्चित की जा सके।

2022-23 में केंद्र सरकार का प्रभावी पूंजीगत व्यय (Effective Capital Expenditure) 10.68 लाख करोड़ रुपए होने का अनुमान है, GDP का लगभग 4.1%: निर्मला सीतारमण

वित्त मंत्री ने रक्षा में “आत्मनिर्भर भारत” पर जोर दिया है। वित्त वर्ष 2023 में घरेलू उद्योग के लिए पूंजी खरीद बजट का 68% (वित्त वर्ष 22 में 58%) घरेलू होगा। निजी क्षेत्र, स्टार्ट-अप और शिक्षाविदों की तरफ से रिसर्च और डेवलपमेंट को प्रोत्साहित करता है। निजी क्षेत्र अब डीआरडीओ के सहयोग से सैन्य प्लेटफॉर्म विकसित कर सकता है।

पेमेंट में देरी को कम करने के लिए एक ऑनलाइन बिल सिस्टम शुरू किया जाएगा और इसका इस्तेमाल सभी केंद्रीय मंत्रालय करेंगे: वित्त मंत्री

PM आवास योजना के तहत 2022-23 के दौरान अफोर्डेबल हाउसिंग स्कीम के तहत 80 लाख परिवारों की पहचान की जाएगी। 3.8 करोड़ घरों में नल से जल पहुंचाने के लिए 60,000 करोड़ रुपये का आवंटन : निर्मला सीतारमण

छिड़काव के लिए किसान ड्रोन के इस्तेमाल को बढ़ावा

फसल का मूल्यांकन करने, भूमि अभिलेखों के डिजिटलीकरण, कीटनाशकों और पोषक तत्वों के छिड़काव के लिए किसान ड्रोन के उपयोग को बढ़ावा दिया जाएगा: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

फाइनेंशियल इनक्लूजन की दिशा में बड़ा कदमः

सभी 1.5 लाख डाकघरों को कोर बैंकिंग सिस्टम में शामिल किया जाएगा, जिससे वित्तीय इनक्लूजन को बढ़ावा मिलेगा। ये डाकघर नेट बैंकिंग, मोबाइल बैंकिंग, ATM इत्यादि की भी सुविधा देंगे और डाकघर खातों तथा बैंक खातों के बीच ऑनलाइन फंड ट्रांसफर भी किया जा सकेगा। इससे ग्रामीण क्षेत्रों के वरिष्ठ नागरिकों और किसानों को बैंकिंग नेटवर्क से जोड़ने में मदद मिलेगी।

बजट में डिजिटल भारत के लिए वित्त मंत्री की घोषणाः

  1. कौशल विकास और आजीविका से संबंधित डिजिटल इकोसिस्टम लॉन्च किए जाएंगे
  2. इसके तहत कुशल बढ़ाना, ऑनलाइन प्रशिक्षण के माध्यम से नागरिकों में कुशलता निर्माण करना
  3. प्रासंगिक नौकरियां और अवसरों को ढूंढने के लिए API आधारित भुगतान के स्तर तैयार करना
  4. राष्ट्रीय डिजिटल स्वास्थ्य इकोसिस्टम बनाने के लिए एक ओपन प्लेटफॉर्म बनाया जाएगा

अपने इस संबोधन में शिक्षा व्यवस्था पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि शिक्षा के लिए वन क्लास, वन टीवी चैनल योजना चलाई जाएगी। PM ई-विद्या प्रोग्राम 200 चैनलों तक होगा। इसके साथ ही डिजिटल यूनिवर्सिटी का गठन करेंगे।

MSMEs के लिए एफएम ने यह भी कहा कि ECLGS यानी इमरजेंसी क्रेडिट लाइन गारंटी स्कीम बढ़ाने का फैसला किया गया है। उन्होंने अपने इस संबोधन में आगे कहा कि होटल सेक्टर प्री-कोविड स्तर पर पहुंच गया है। MSMEs में सुधार के लिए 5 वर्षीय प्रोग्राम चलाने की योजना है। इसपर 6,000 करोड़ रुपये की लागत आ सकती है। इसके अलावा स्टार्टअप के जरिए स्टार्ट-अप के जरिए ड्रोन शक्ति को बढ़ावा देने पर भी हमारा फोकस है।

बजट 2022 में शिक्षा क्षेत्र से जुड़ी घोषणाएं

  1. राज्यों को कृषि विश्वविद्यालयों का पाठ्यक्रम संशोधित करने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा ताकि प्राकृतिक, जीरो-बजट और ऑर्गेनिक फार्मिंग के साथ आधुनिक दौर की खेती की जरूरतों को पूरा किया जा सके
  2. PM eविद्या के ‘वन क्लास वन TV चैनल’ प्रोग्राम को 12 से बढ़ाकर 200 TV चैनलों तक विस्तृत किया जाएगा
  3. सभी राज्यों को इससे क्लास 1 से 12 तक क्षेत्रीय भाषाओं में पूरक शिक्षा देने में मदद मिलेगी

Ken-Betwa प्रोजेक्ट के लिये 1400 करोड़

सरकार ने Ken-Betwa प्रोजेक्ट को 1400 करोड़ रुपये का आवंटन किया है। इसके अलावा 5 रिवर लिंकिंग प्लैन को फंडिग की जाएगी। वित्त मंत्री ने आगे कहा कि फल और सब्जी के किसानों को आगे रहात पैकेज दिया जाएगा।

अपने बजट भाषण में वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार की योजना केमिकल फ्री नैचुरल फार्मिंग को बढ़ावा देने की है। FY22 में अब तक किए गए फार्म प्रोक्योरमेंट वैल्यू 2.37 लाख करोड़ रुपये रही है। इसके अलावा सरकार किसानों को MSP के तहत 2.7 लाख करोड़ देगी। हमारी योजना ड्रोन के जरिए एग्री सेक्टर में टेक्नोलॉजी इनोवेशन को बढ़ावा देने की है। इसके साथ ही सरकार का फोकस तेल-तिलहन का घरेलू उत्पादन बढ़ाने पर है। सरकार इसके लिए एग्री यूनिवर्सिटी को बढ़ावा देने पर जोर दे रही है।

electric vehicle को बढ़ावा

इलेक्ट्रिक व्हीकल मार्केट को बूस्ट देने के लिए सरकार का ऐलान, ईवी इकोसिस्टम को बढ़ावा देने के लिए इंटरऑपरेबिलिटी स्टैंडर्ड्स के साथ आएगी एक बैटरी स्वैपिंग पॉलिसी

अब आएंगे चिप वाले पासपोर्ट

अब आएंगे चिप वाले पासपोर्ट, वित्त मंत्री ने कहा- 2022-23 में फ्यूचर की टेक्नोलॉजी से युक्त ई-पासपोर्ट जारी करेगी सरकार नागरिकों की सुविधा बढ़ाने के लिए 2022-23 में ई-पासपोर्ट जारी किया जाएगा: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

विदेश भ्रमण के लिए प्रोत्साहित करते हुए सरकार ने 2022-23 तक ई-पासपोर्ट जारी किए जाने की घोषणा की है। शहरी सेक्टर के विकास के लिए 250 करोड़ रुपये के आवंटन से उत्कृष्टता केंद्र स्थापित किए जाएंगे : वित्त मंत्री

Budget 2022: ECLGS की डेडलाइन मार्च 2023 तक बढ़ाई गई

आपातकालीन क्रेडिट लाइन गारंटी योजना (ECLGS) को मार्च 2023 तक बढ़ाया जाएगा, गारंटी कवर को 50,000 करोड़ रुपये से बढ़ाकर कुल 5 लाख करोड़ रुपये किया जाएगा: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमणवित्तमंत्री ने मंगलवार को पेश बजट में छोटे और मध्यम उद्यमों के लिए बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने ECLGS स्कीम की अवधि बढ़ाकर मार्च 2023 तक करने का ऐलान किया है। साथ ही इस स्कीम के तहत मिलने वाले गारंटी कवर को भी 50,000 रुपये बढ़ाकर 5 लाख रुपये कर दिया गया है।

नेशनल डिजिटल हेल्थ इकोसिस्टम के लिए एक ओपन प्लेटफॉर्म शुरू किया जाएगा। इसमें हेल्थ प्रोवाइडर्स के लिए डिजिटल रजिस्ट्रीज, यूनीक हेल्थ आइडेंडिटी और हेल्थ फैसिलिटीज हासिल करने के लिए यूनिवर्सल एक्सेस शामिल होगी : निर्मला सीतारमण

महामारी के चलते मेंटल हेल्थ के रूप में एक बड़ी समस्या सामने आई है। एक नेशनल टेली मेंटल हेल्थ प्रोग्राम लॉन्च किया जाएगा: निर्मला सीतारमण

हमारी सरकार ने लाभ प्रदान करने के लिए महिला और बाल विकास मंत्रालय की मिशन शक्ति, मिशन वात्सल्य, सक्षम आंगनवाड़ी और पोषण 2.0 जैसी योजनाओं को व्यापक रूप से नया रूप दिया है: केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

123MW पनबिजली और 27MW सौर ऊर्जा परियोजनाओं के लिए 2022-23 के दौरान 1400 करोड़ रुपयों का आवंटन: वित्त मंत्री

MSMEs सेक्टर पर बात करते हुए एफएम ने कहा कि MSMEs में सुधार के लिए 5-Yr प्रोग्राम चलाएंगे। स्टार्ट-अप के जरिए ड्रोन शक्ति को बढ़ावा है। 6,000 करोड़ रुपये की लागत से MSMEs का 5-Yr प्रोग्राम करेगी। उन्होंने कहा कि शिक्षा के लिए वन क्लास, वन टीवी चैनल बनाए गए। PM ई-विद्या प्रोग्राम 200 चैनलों तक होगा। डिजिटल यूनिवर्सिटी का गठन करेंगे।

शिक्षा के क्षेत्र में बड़ा ऐलान

वित्त मंत्री ने कहा कि पीएम ईविद्या के प्रोग्राम ‘वन क्लास, वन टीवी चैनल’ के तहत टीवी चैनलों की संख्या 12 से बढ़ाकर 200 की जाएगी। इससे सभी राज्यों को कक्षा 1 से 12 तक के लिए क्षेत्रीय भाषाओं में सप्लीमेंट्री एजुकेशन उपलब्ध कराने की सुविधा मिलेगी।

पीएम ई विद्या के ‘वन क्लास, वन टीवी चैनल’ कार्यक्रम को 12 से 200 टीवी चैनलों तक बढ़ाया जाएगा। यह सभी राज्यों को कक्षा 1 से 12 तक क्षेत्रीय भाषाओं में सप्लीमेंट्री शिक्षा प्रदान करने में सक्षम बनाएगा: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

3.8 घरों को नल जल उपलब्ध कराने के लिए 60,000 करोड़ रुपए आवंटित किए गए: निर्मला सीतारमण

2022-23 में 80 लाख परिवारों को मिलेंगे सस्ते घर, अफोर्डेबिल हाउसहोल्ड स्कीम के लिए लाभार्थियों की पहचान करेगी सरकार: निर्मला सीतारमण

रेलवे छोटे किसानों और छोटे व मध्यम उद्यमों के लिए नए प्रोडक्ट और कुशल लॉजिस्टिक सर्विस तैयार करेगा: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

गंगा नदी के किनारे 5 किमी चौड़े गलियारों में किसानों की जमीन पर फोकस के साथ पूरे देश में रासायनिक मुक्त प्राकृतिक खेती को बढ़ावा दिया जाएगा: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

हब एंड स्पोक मॉडल का इस्तेमाल करते हुए आईसीटी पर जोर के साथ ऑनलाइन शिक्षा के लिए डिजिटल यूनिवर्सिटी की स्थापना होगी: निर्मला सीतारमण

FY23 में 8 नई रोप-वे का ऑर्डर दिया जाएगा और नई मेट्रो रेल के लिए इनोवेटिव फंडिंगके इनोवेटिंग तरीके अपनाए जाएगे: निर्मला सीतारमण

44,605 करोड़ रुपये की केन-बेतवा लिंक परियोजना से 9.05 लाख हेक्टेयर क्षेत्र को सिंचाई की सुविधा मिलेगी, 65 लाख लोगों को पेयजल, पनबिजली, सौर ऊर्जा का लाभ मिलेगा: निर्मला सीतारमण

गतिशक्ति योजना में PPP मॉडल के तहत 4 मल्टीमॉडल लॉजिस्टिक्स पार्क बनाए जाएगे और छोटे किसानों के लिए रेल इंफ्रा डेवलप किया जाएगा। इसके साथ 3 साल में 400 नई वंदे भारत ट्रेनें चलाएंगे। साथ ही 100 PM गतिशक्ति कार्गो टर्मिनल बनाए जाएंगे। वहीं पहाड़ी क्षेत्रों मे पर्वत माला रोप वे चलाए जाने की योजना है: निर्मला सीतारमण

निर्मला सीतारमण ने इस बजट भाषण में कहा कि “India at 100” के लिए PM गतिशक्ति योजना जरूरी है। PM गतिशक्ति योजना पूरी क्षमता के साथ जारी है। इस योजना में 2 चरणों में होगा। योजना में क्लीन एनर्जी, क्लाइमेट हमारी प्राथमिकता है। गति शक्ति योजना से राज्यों के इंफ्रास्ट्रक्चर मे सुधार आएगा। पीएम गतिशक्ति योजना के तहत वर्ल्ड क्लास इंफ्रा तैयार किया जाएगा। 2022-23 तक नेशनल हाइवे नेटवर्क 25,000 KM तक करने की योजना है। सरकार हाईवे विस्तार पर 20,000 करोड़ रुपये खर्च करेगी।

क्रॉप असेसमेंट, लैंड रिकॉर्ड के डिजिटाइजेशन और कीटनाशकों के छिड़काव के लिए किसान ड्रोनों के इस्तेमाल को बढ़ा दिया जाएगा: वित्त मंत्री

गतिशक्ति योजना के तहत रेलवे के लिए खास घोषणाएं

  1. अगले 3 सालों में नई-पीढ़ी की 100 वंदे भारत ट्रेनें विकसित की जाएंगी
  2. स्थानीय कारोबारों को बढ़ावा देने के लिए ‘एक स्टेशन, एक उत्पाद’ की सोच को बढ़ावा दिया जाएगा
  3. अगले 3 सालों में 100 नए कार्गो टर्मिनल बनाए जाएंगे

पांच रिवर लिंक्स के लिए ड्राफ्ट डीपीआर को अंतिम रूप दिया गया, वित्त मंत्री ने किया ऐलान

आत्मनिर्भर भारत का लक्ष्य हासिल करने के लिए प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव (PLI) स्कीम को अच्छी सफलता मिली है, इसके जरिए अगले पांच साल में 60 लाख नई नौकरियां और 30 लाख करोड़ रुपए के अतिरिक्त प्रोडक्शन की संभावना है।

अगले 3 सालों के दौरान बेहतर दक्षता वाली 400 नई जेनरेशन की वंदे भारत ट्रेनें लाई जाएंगी। अगले 3 सालों में 100 PM गति शक्ति कार्गो टर्मिनल विकसित किए जाएंगे: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

बजट में मीडियम टर्म में इंफ्रास्ट्रक्चर को प्रोत्साहन देने के लिए पब्लिक इनवेस्टमेंट पर दिया गया, एक मल्टी मॉडल अप्रोच के जरिए गति शक्ति के टेक प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किया जाएगा। भारत में केमिकल फ्री फार्मिंग को प्रोत्साहन मिलेगा: वित्त मंत्री

बजट के लिए 7 मुख्य क्षेत्र तय किए गए हैं, जिन पर फोकस किया जाएगा। ये क्षेत्र हैं:

  1. PM गतिशक्ति
  2. समेकित (इन्क्लुसिव) विकास
  3. उत्पादकता में वृद्धि
  4. सनराइज अपॉर्च्युनिटी
  5. ऊर्जा के सस्टेनेबल स्रोतों की ओर बढ़ना
  6. पर्यावरण बचाव
  7. निवेश के लिए फंड का इंतजाम

आत्मानिर्भर भारत के लक्ष्य को हासिल करने के लिए प्रोडक्शन लिंक्ड इंसेंटिव (PLI) स्कीम को एक उत्कृष्ट प्रतिक्रिया मिली है, जिसमें अगले कीकैप अंक पांच सालों के दौरान 60 लाख नए रोजगार और 30 लाख करोड़ के अतिरिक्त उत्पादन की क्षमता है: FM निर्मला सीतारमण

पहाड़ी क्षेत्रों में पारंपरिक सड़कों की बजाय रोपवे कार्यक्रम की शुरुआत करेगी, जिससे कनेक्टिविटी में सुधार हो। पहाड़ी क्षेत्रों में 60 किलोमीटर लंबे 8 रोपवे बनाएगी सरकार।

सब का साथ – सब का विकास, डिजिटल इकोनॉमी और फिनटेक, तकनीक आधारित विकास, सतत ऊर्जा की और बढ़ने और पर्यावरण पर कदम उठाते हुए ग्रोथ हासिल करना हमारा लक्ष्य है: वित्त मंत्री

यह केंद्रीय बजट अगले 25 सालों के ‘अमृत काल’ की नींव रखना और अर्थव्यवस्था का खाका देना चाहता है: FM निर्मला सीतारमण

हम ओमीक्रोन लहर के बीच में हैं। हमारे वैक्सीनेशन ड्राइव की रफ्तार ने बहुत मदद की है। मुझे विश्वास है कि ‘सबका प्रयास’, हम मजबूत विकास के साथ जारी रहेंगे: वित्त मंत्री सीतारमण

LIC IPO के निवेशकों के लिए खुशखबरी

बजट भाषण मे निर्मला सीतारमण ने कहा कि देश की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी LIC का IPO जल्दी आएगा। बजट भाषण की शुरुआत करते हुए निर्मला सीतारमण ने कहा कि देश की सबसे बड़ी जीवन बीमा कंपनी LIC का IPO जल्दी आएगा। इसके साथ ही 2022-23 में कई दूसरी कंपनियों के IPO आएंगे।

Budget 2022: आरबीआई डिजिटल रुपया पेश करेगा

वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा है कि भारतीय रिजर्व बैंक डिजिटल रुपया लॉन्च करेगा। इसे साल 2022 में लॉन्च कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि इसके लिए ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाएगा।

budget(बजट) 2022 Highlight

क्रिप्टोकरेंसी अगर उपहार के रूप में दी जाए, तो उपहार लेने वाले को अब इस पर कर देना होगा। RBI 2023 में डिजिटल करेंसी लॉन्च करेगा। सरकार डिजिटल एसेट ट्रांसफर से होने वाली आमदनी पर 30% टैक्स लेगी : वित्त मंत्री

350 से ज्यादा कस्टम ड्यूटी छूट खत्म की जाएगी

केंद्रीय और राज्य सरकार के कर्मचारियों में टैक्स डिडक्शन का अंतर खत्म

केंद्रीय और राज्य सरकार के कर्मचारियों में टैक्स डिडक्शन का अंतर खत्म हुआ। अब राज्य सरकार के कर्मचारियों के लिए भी NPS खाते में जाने वाली रकम पर टैक्स डिडक्शन की सीमा 10% से बढ़कर 14% हुई

जनवरी में GST कलेक्शन रिकॉर्ड स्तर पर. GST लागू होने के बाद अब तक का सबसे ज्यादा कलेक्शन,

कोऑपरेटिव सोसायटी, जिनकी आमदनी 1 से 10 करोड़ रुपये के बीच है, उन पर सरचार्ज को 12 से घटाकर 7% किया गया: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

Budget 2022-23: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार 1 फरवरी को वित्त वर्ष 2022-23 के लिए आम बजट पेश किया। बजट के दौरान मोदी सरकार का सबसे अधिक जोर देश के इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर पर दिखा। वित्त मंत्री ने कहा कि भारतीय अर्थव्यस्था कोरोना के चलते आई मंदी से उबर रही है और यह बजट पब्लिक इनवेस्टमेंट के जरिए देश के आर्थिक ग्रोथ की नींव रखेगा।

वित्त मंत्री ने आम बजट पेश करते हुए विभिन्न सेक्टर्स में टैक्स और इनसेंटिव को लेकर कई बड़े ऐलान किए। इन सबके चलते मोबाइल फोन और चार्जर सहित हमारी रोजोना की जिंदगी में इस्तेमाल होने वाले कई सामान अगले वित्त वर्ष में सस्ते होते दिख सकते हैं।

केंद्रीय बजट में 2022-23 के लिए 7.5 लाख करोड़ रुपए के पूंजीगत व्यय का प्रावधान किया गया है। 2022-23 मे यह व्यय जीडीपी का 2.9 प्रतिशत होगा: वित्त मंत्री

जनवरी 2022 के महीने के लिए ग्रॉस GST कलैक्शन 1,40,986 करोड़ रुपये है, जो जीएसटी लागू होने के बाद से सबसे ज्यादा है: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

निर्मला सीतारमण ने पॉलिश्ड डायमंड और जेमस्टोन्स पर कस्टम ड्यूटी घटाकर 5 फीसदी कर दी है। साथ ही धीरे-धीरे कस्टम्स ड्यूटूी में दिए गए 350 से अधिक छूट को खत्म करने का प्रस्ताव रखा है। वित्त मंत्री ने देश में बने कृषि उपकरणों और औजारों पर भी टैक्स में छूट बढ़ाने का ऐलान किया है

किसी भी LTCG टैक्स पर 15% से ज्यादा सरचार्ज नहीं लगाया जा सकता है: निर्मला सीतारमण

कट पॉलिश्ड डायमंड पर कस्टम ड्यूटी घठकार

चुनिंदा कैपिटल गुड्स पर 7.5% ड्यूटी

छाते पर कस्टम ड्यूटी बढ़ाकर 20%

केंद्रीय राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने कहा कि आजादी के अमृत महोत्सव के इस कालखंड का यह अमृत बजट है, आज का बजट आम आदमी की आकांक्षाओं के अनुरूप है। ये बजट सबका साथ, सबका विकास के मूलमंत्र पर आधारित है, इसमें सभी वर्ग के लोगों का ध्यान रखा गया है।

केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने कहा कि ये बहुत समावेशी बजट है, ये बजट गरीबों, गांव, पूर्वोत्तर के लिए है। इस बजट में वित्तीय क्षेत्र में काफी रिफॉर्म लाए गए हैं। जिस तरह से अर्थव्यवस्था में रिकवरी हुई है, उस तरह से ये बहुत अच्छा बजट है


Q.1 बजट किसे कहते हैं

Ans .भविष्य के लिए आय व खर्च का अनुमान लगाकर बनाई गई योजना को बजट कहते हैं

Q.2 बजट का अर्थ

Ans. बजट शब्द फ्रेंच भाषा के बुजट से निकला है इसका अर्थ चमड़े का थैला या झौला होता है बजट का अर्थ किसी भी देश की अर्थव्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने के लिए उसकी आय वह खर्चों का अनुमान लगाकर और नई योजनाएं बनाकर तैयार किया हुआ लेखा जोखा

Q.3 आधिक्य बजट किसे कहते हैं

Ans. सरकार द्वारा लगाए गए करो से होने वाले कमाई सरकार द्वारा लोक कल्याण पर खर्च किए जाने वाली राशि से अधिक है यदि अपेक्षित सरकारी राजस्व इसे विशेष किसी विशेष वित्तीय वर्ष में अनुमानित सरकारी वयय अधिक हो

Q.4 budget (बजट) meaning in hindi

Ans.आय- खर्च का लेखा जोखा

Q.6 भारत में बजट की अवधि क्या होती है,बजट की अवधि कितने वर्ष की होती है

Ans. भारत में बजट सिर्फ 1 साल की अवधि के लिए तैयार किया जाता है हर साल एक नये बजट को तेयार किया जाता है


1 thought on “Union budget 2022: बजट 2022 in Hindi”

Leave a Comment