Bank Account Band करने से पहले क्या करे पूरी जानकारी हिन्दी मे


Bank Account Band process – हैलो दोस्तों आज हम इस लेख के जरिए के जरिए Bank Account Band करने के process के बारे मे जानेगे ओर इसके साथ इससे जुड़े सभी सवालों के बारे मे भी जानेगे जैसे बैंक खाता बंद करने के लिए एप्लीकेशन कैसे दें | How To Close Bank Account , बैंक खाता बंद करने का लेटर कैसे लिखें? , बैंक अकाउंट बंद करने से पहले रखें ध्यान , आदि इसके साथ सभी के बारे मे विस्तार से जानेगे आशा करते है की यह पोस्ट आपको पसंद आएगी ।

आज के समय मे बैंक खाता होना सभी के लिए बहुत जरूरी है। क्योंकि बिना बैंक अकाउंट के किसी भी प्रकार का लेन देन सुरक्षित नहीं कर पाएगे ओर इसके साथ हम किसी भी सरकारी लोन व सरकारी योजना का लाभ नहीं उठा पाएगे है। इसलिए आज के समय मे हर किसी का बैंक अकाउंट होना बहुत ही जरूरी है लेकिन बहुत से लोग अपनी निजी समस्या के कारण अपना अकाउंट बंद करवाना चाहते है या किसी भी समस्या के चलते अपना खाता बंद करवाना चाहते है

जिनके पास कई बैंक खाता होता है वह लोग अपने गैर जरूरी बैंक अकाउंट बंद करने का विचार बनाते हैं। लेकिन बैंक अकाउंट बंद करने से पहले कुछ जरूरी चीजें के बारें में जानकारी प्राप्त कर लेना चाहिए, नहीं तो बाद कई सारी दिक्कतें एक साथ आ जाती हैं।

लेकिन उन्हे इसके बारे मे कोई जंकरी नहीं होती है इसलिए वे कुछ ऐसी गलतिया कर दे ते है जिससे उनको बहुत परेशानी उठानी पड़ती है इसलिए आज हम आपको बैंक खाता बंद करने के बारे मे पूरी जानकारी देगे

कई बार ऐसा भी देखने को मिलता है कि एक ही व्यक्ति का कई बैंक खाता होता है। चूँकि अब जिस बैंक अकाउंट में आरबीआई द्वारा निर्धारित न्यूनतम धनराशि नहीं रहती है उन खाताधारकों को पेनालिटी चुकाना पड़ता है।

Bank Account Band Kaise Kare बैंक खाता बंद करने के लिए एप्लीकेशन bank account close application in hindi

बैंक खाता बंद करने के लिए एप्लीकेशन Bank Khata Band Karne Ke Liye Application

बैंक खाता बंद करने के लिए एप्लीकेशन कैसे दें | How To Close Bank Account

application for bank account close ,bank account close application

सेवा में,

शाखा प्रबंधक महोदय

भारतीय स्टेट बैंक

rajgarh ,churu (RJ)

दिनांक – 28/04/2022

विषय – बचत खाता संख्या *** को बंद करवाने हेतु आवेदन।

महोदय,

मेरा आपकी बैंक शाखा में, सेविंग अकाउंट है, जिसका नंबर है-***। कुछ व्यक्तिगत परिस्थितियों के कारण, मैं इस अकाउंट को संचालित करने में असमर्थ हूं। निवेदन है कि इस अकाउंट को बंद कर दिया जाए और आगे इसमें कोई लेन-देन न किया जाए। आवेदन पत्र के साथ, मैं इस अकाउंट से जुड़े डेबिट कार्ड, चेकबुक, पासबुक वगैरह वापस कर रहा हूं।

मेरे खाते में मौजूद बैलेंस को नीचे बताए गये बैंक अकाउंट में ट्रांसफर कर दिया जाए।

बैंक अकाउंट संख्या –***********

IFSC कोड –***********

धन्यवाद

(यहां हस्ताक्षर करें)

पता : xyz जो भी आपका पता हो वो लिखे

मोबाइल नंबरः *********

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब 2014 में प्रधानमंत्री जनधन योजना शुरु किया तब पता चला कि देश में ऐसे कितने लोग थे जिनका बैंक अकाउंट ही नहीं है।

प्रधानमंत्री जनधन योजना शुरु होने के बाद 32.41 करोड़ बैंक अकाउंट नये खुले यानी साढ़े बत्तीस करोड़ लोगों का बैंक खाता ही नहीं था अभी तक। इतने लोगों लोगों का एक साथ बैंक खाता खुलना अपने आप में एक रिकार्ड है।

यह भी पढे :- जीएसटी क्या होता ओर कितने प्रकार का होता है

बैंक खाता को डी लिंक करें

Bank Account – बैंक खाता को डी लिंक करने से तात्पर्य है की खाता से जुड़े सभी इन्वेस्ट, लोन, ट्रेंडिंग, क्रेडिट कार्ड पेमेंट तथा बिमा अकाउंट से डी लिंक करना यानी सभी देय और प्राप्त वाले खातों से हटाना।

ऐसे में एक बैंक अकाउंट को डी लिंक करने के बाद बाकी ईएमआई रेगुलर तौर पर जाती रही, इसको सुनिश्चित करने एक लिए आपके पास एक दूसरा बैंक खाता अनिवार्य रुप से होना चाहिए।

जब आप एक बैंक खाता डी लिंक करने का निर्णय करते हैं तब आपको तुरंत दूसरे बैंक अकाउंट को बाकी के इन्वेस्ट, लोन, ट्रेंडिंग, क्रेडिट कार्ड पेमेंट तथा बिमा अकाउंट से अटैच करना होता है।

बैंक खाता को डी लिंक करने के लिए आपको सिर्फ इतना करना होता है की जब आप बैंक खाता बंद करने का फॉर्म (अकाउंट क्लोजर) भरें तो उसी के साथ एक डी लिंक फॉर्म भरकर जमा कर देना होता है।

यहां पर यह ध्यान देने वाली बात है की बैंक अकाउंट बंद कराते वक्त आपको अकाउंट बंद करने की वजह बताना होता है। अगर किसी का ज्वाइंट अकाउंट है तो क्लोजर फॉर्म पर सभी खाताधारकों का हस्ताक्षर होना अनिवार्य होता है।

इसके साथ ही अगर बंद कराने वाले बैंक खाता में कुछ पैसा है तो एक ऐसा बैंक खाता बताना होगा जिसमे बैंक खाता में बचे पैसों को ट्रांसफर किया जाना होता है। बैंक खाता क्लोजर फॉर्म के साथ बैंकिंग से जुड़े सभी दस्तावेज भी वापस करना होता है।

जैसे: चेकबुक/ पासबुक
डेबिट कार्ड / क्रेडिट कार्ड


क्या Bank Account Band करने का चार्ज भी देना पड़ता है?

खाता बंद करने के लिए चार्ज नहीं देना पड़ता है और चार्ज नहीं भी देना पड़ता है। यह इस बात पर निर्भर करता है की बैंक खाता कितना पुराना है या कितना नया है।

अगर बैंक खाता 14 दिन के भीतर खुला होता है और खाताधारक उसे बंद कराना चाहते हैं तो खाताधारक को एक भी पैसा एक्स्ट्रा नहीं देना पड़ेगा। लेकिन, बैंक खाता 14 दिन से अधिक लेकिन 1 साल से कम पुराना है और खाताधारक उसे बंद कराना चाहते हैं तब अकाउंट क्लोजर चार्ज देना पड़ता है।

अगर अकाउंट में पैसा हो तब क्या होगा?

खाताधारक जिस बैंक अकाउंट को बंद कराना चाहते हो और उसमे पैसा हो तो उस पैसे को निकालने का पूरा मौका दिया जाता है। अगर व्यक्ति के बैंक खाता में 20 हजार तक पैसा है और व्यक्ति उसे निकालना चाहता है तो व्यक्ति के पास मौका होता है 20 हजार तक का पैसा कैश में निकालने का।

व्यक्ति के क्लोजर बैंक खाते में अगर 20 हजार से अधिक पैसा है तो इस पैसों को भी विड्राल यानी निकाला जा सकता है. 20 हजार से अधिक पैसा निकालने के लिए बैंक ट्रांसफर, चेक इत्यादि का विकल्प होता है।

इस बात का भी ध्यान रखें अगर आपके खाते में ज्यादा पैसा है तो क्लोजर प्रोसेस शुरू करने से पहले उसे दूसरे अकाउंट में ट्रांसफर कर दें। अकाउंट का अंतिम स्टेटमेंट अपने पास रखे, जिसमें अकाउंट क्लोजर का जिक्र हो।

Bank Account Band करने से पहले किन बातों का ध्यान रखें?

बैंक अकाउंट बंद करने से पहले रखें ध्यान –

  • फॉर्म में भरे गये डीटेल, चेक कर लें
  • क्लोजिंग चार्ज के लिए, खाते में बैलेंस चेक कर लें
  • दूसरी जगह, नया अकाउंट खुलवा लें
  • खाते से जुड़े सभी कार्ड और अकाउंट के लिंक हटा दें
  • बैंक की सभी देनदारियां निपटा दें
  • अकाउंट का स्टेटमेंट निकालकर रख लें

बैंक खाता बंद करवाने के लिए जरुरी डॉक्यूमेंट

Bank Account Band करवाने की प्रक्रिया | Process to close bank account

बैंक अकाउंट बंद कैसे करे Bank Account Band Kaise Kare

Bank Account Band करने का लेटर कैसे लिखें?

एसबीआई खाता बंद करने का आवेदन फॉर्म के लिए क्लिक करे

एसबीआई का अकाउंट बंद करने का शुल्क

बैंक खाता बंद कैसे कराएं? How to close your Bank account

किसी भी प्रकार के बैंक खाता हो उसे बंद (Bank Account Band) करवाने की प्रक्रिया एक जैसी ही होती है। जैसे कि, बचत खाता (savings account), चालू खाता (current account) या वेतन खाता (salary account)आदि। इसके लिए आप नीचे दिए स्टेप को फॉलो करके आप यह प्रोसेस पूरा कर सकते है । इस प्रोसेस के दौरान, हमने उदाहरण के लिए भारतीय स्टेट बैंक (SBI) की एक शाखा का नाम शामिल किया है।

स्टेप 1
आप जो अकाउंट बंद करवाना चाहते हैं, उसकी Home Branch में जाइए। (जिस शाखा में, वह अकाउंट खुला है, वहां पर)। वहां बैंक अधिकारी से Account Closure Form मांग लीजिए। वहां उपलब्ध न हो, तो बैंक की वेबसाइट से भी यह फॉर्म download कर सकते हैं। इस फॉर्म में मांगी गई जानकारियों (details) को भर डालिए। इस फॉर्म पर, उन सभी खाताधारकों (account holders) को हस्ताक्षर करने होंगे, जो उसमें साझीदार हैं।

स्टेप 2
उस बैंक अकाउंट से संबंधित Cheque Book, Passbook, Debit Card वगैरह बैंक को लौटा दीजिए। ध्यान दें: Debit Card लौटाने के पहले, उस अकाउंट में, मौजूद पैसों को निकाल लीजिए। इसे बैंक को लौटाने से पहले या तो खुद चार हिस्सों में काट लेना चाहिए, या फिर बैंक अधिकारी आपके सामने उसे नष्ट करेगा। इसी तरह Cheque Book को भी बैंक अधिकारी नष्ट करेगा।

स्टेप 3
अब आपको, उस भरे हुए Bank account Closure Letter को बैंक अधिकारी के पास जमा कर देना है। बैंक अधिकारी आपसे, Identify Proof (पहचान प्रमाण) और address proof (पता प्रमाण) भी मांग सकता है। इस काम के लिए Aadhar Card, Pan Card, Voter ID Card, Driving License दगैरह का इस्तेमाल कर सकते हैं।

स्टेप 4
आपकी ओर से सारी प्रक्रियाएं पूरी होने के बाद बैंक, उस Bank Account Band करने की प्रक्रिया शुरू कर देगा। सामान्यतः 5 से 10 दिनों में, यह process पूरी हो जाती है। आपके registered email id और mobile number पर इसकी सूचना भी भेजी जाती है। प्राइवेट बैंकों में यह प्रक्रिया 2 से 3 दिन में भी निपटाई जा सकती है।

निष्कर्ष

आज हमने इस लेख के जरिए Bank Account Band करने के लिए जो भी प्रोसेस होता है उसके बारे मे जाना आशा करता हु की आपको हमारी ये पोस्ट अच्छी लागि होगी अगर आपको हमारे द्वारा दी हुई यह जानकारी अच्छी लागि हो तो हमे कॉमेंट करके जरूर बताए इसके साथ अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर करना न भूले अगर इस पोस्ट से जुड़ा आपका कोई सवाल हो तो आप हमे कमेन्ट करके पुछ सकते है धन्यवाद ।



Leave a Comment